Friday 12 April 2024 4:35 PM
Samajhitexpressताजा खबरेंनई दिल्ली

दिल्ली प्रांतीय रैगर पंचायत चुनाव में समाज के प्रति निष्ठावान व्यवहारिक उम्मीदवार चुनकर लाने की तैयारी

दिल्ली, समाजहित एक्सप्रेस (रघुबीर सिंह गाड़ेगांवलिया) l  दिल्ली प्रांतीय रैगर पंचायत चुनाव की रणभेरी बजने के बाद चुनाव लड़ने वाले इच्छुक प्रत्याशियों ने मैदान में ताल ठोंक दी है । हर कोई चुनाव जीतने की इच्छा पाले मैदान में आ गये है और मतदाताओं से निरंतर सम्पर्क कर रहे है । वहीं दूसरी ओर रैगर समाज के प्रतिनिधि सदस्यों में भी चुनाव में काबिल व पढ़े-लिखे लोगों को जिताने की मुहिम शुरू कर दी है । इस मुहिम में पहल करते हुए रैगर समाज के प्रतिनिधि सदस्यों ने परिवारवाद और भाई भतीजावाद की नीति से उपर उठकर अच्छे लोगों को चुनने की कवायद शुरू कर दी है । प्रतिनिधि सदस्य चाहते है कि चुनाव के माध्यम से ऐसे साफ सुथरे प्रत्याशी जीतकर आगे आएं जो किसी स्वार्थ की भावना के बिना रैगर समाज का चहुंमुखी विकास करने और करवाने को महत्व दें ।

समाजसेवी व मादीपुर पंचायत के पूर्व प्रधान खज़ान सिंह बारोलिया ने समाजहित एक्सप्रेस को बताया कि चुनावी मैदान में जोहर दिखाने के लिए अलग अलग विचारों के लोग सामने आएंगें, लेकिन मैं चुनाव में अच्छे व्यवहारिक शिक्षित सुलझे हुए सुझवान उम्मीदवारों को चुनने का पक्षधर हूँ और समाजहित की सोचने वाले मतदाताओ का भी नैतिक कर्तव्य है । पंचायत के मतदाता ऐसे उम्मीदवारों से परहेज करें जो उम्मीदवार भाई-भतीजावाद का हवाला देकर, समाज को वर्गों में बांटकर आपस में लड़ाने की सोच रखने वाले और उन्हे प्रलोभन व नशा देकर उनका वोट हथियाएं । जो प्रत्याशी सामाजिक, शिक्षा, आर्थिक व महिलाओं आदि के विकास के लिए हमेशा तत्पर रहे ऐसे उम्मीदवारों को ही चुना जाए तभी समाज में समुचित विकास कार्य होंगे ।

समाजसेवी व मंगोलपुरी पंचायत के पूर्व प्रधान रोहताश बारोलिया (संरक्षक) ने समाजहित एक्सप्रेस को बताया कि समाज की जो स्थिति है वह किसी व्यक्ति से छुपी नहीं है । हकीकत यह है कि लगातार गिरावट देखने को मिल रही है । आज चुनाव में तो प्रत्याशी हर प्रतिनिधि के घर जा रहे है और जीतने के बाद जब पंचायत का कोई भी प्रतिनिधि सदस्य या वरिष्ठ नागरिक पंचायत के नाम डाक से किसी विषय पर पत्र भेजता है तो उस पत्र का जवाब उसे पत्र द्वारा ही दिया जाना चाहिए, पत्र व्यवहार करने वाले सदस्य को ऑफिस बुलाने का क्या औचित्य है? पंचायत की ऐसी कार्यशैली में परिवर्तन होना चाहिए l

समाजसेवी व मंगोलपुरी पंचायत के प्रधान रोशन लाल पीपलीवाल ने कहा कि आज हमारे समाज में सभी शिक्षित है तो दिल्ली प्रांतीय रैगर पंचायत का प्रधान और उसके सहयोगी जो भी चुन कर आये वे सभी व्यवहारिक होने चाहिए जो समाज की समस्या को समझकर सुलझा सके l हमे अफसर और अभिनेता नहीं चाहिए l पंचायत रैगर समाज के प्रति जवाबदेय होनी चाहिए l

युवा समाजसेवी प्रवीन तुसीवाल ने बताया कि पंचायत चुनाव में जो भी मत्रिमंडल जीत कर आये उसे सबसे पहले प्रतिनिधि सदस्यों को जागरूक करने के लिए पंचायत के विधान की कॉपी उपलब्ध करानी चाहिए l दूसरा पंचायत के द्वारा किये जा रहे विकास कार्यों के बारें में रैगर समाज के लोगो को जानकारी देनी चाहिए l पंचायत विधान पुराना चला आ रहा है उसमे समय अनुसार समाज के प्रबुद्ध लोगो की कमेटी द्वारा की गई सिफारिश के अनुसार परिवर्तन होना चाहिए l रैगर समाज के प्रतिनिधियों के पास समाज विकास के लिए चुनाव ही एक ऐसा विकल्प है जिसमे वे ईमानदार,कर्मठ, समाज के प्रति निष्ठावान व्यवहारिक उम्मीदवार चुनकर लायें तभी समाज बदलेगा । बगैर सकारात्मक विचारों वाले लोगों के आने से समाज के स्तर में गिरावट आती है l

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close