Sunday 23 June 2024 3:48 AM
Samajhitexpressताजा खबरेंनई दिल्लीराजस्थानलाइफस्टाइलशिक्षा

दिल्ली प्रांतीय रैगर पंचायत द्वारा आयोजित समर कैंप के समापन पर कला प्रदर्शन व सम्मान तथा प्रशंसा पत्र वितरण

दिल्ली, समाजहित एक्सप्रेस (रघुबीर सिंह गाड़ेगांवलिया) l दिल्ली प्रांतीय रैगर पंचायत द्वारा गर्मी के दिनों में श्री गंगा मंदिर स्थित कार्यालय में समर कैंप शुरू हुआ, जिसमें विद्यार्थियों के लिए विभिन्न रचनात्मक व सृजनात्मक गतिविधियों का आयोजन किया गया । इस दौरान विद्यार्थियों को आर्ट एंड क्राफ्ट, संगीत व नृत्य कला का प्रशिक्षण दिया गया । प्रशिक्षक नितिन माछलपुरिया जी, संदेश सिंगाड़िया जी, सूरज जी व कु०प्रियंका बारोलिया जी द्वारा समर कैंप के कार्यक्रम के तहत् बच्चों को ट्रेनिंग हेतु किये गये प्रयास सराहनीय रहे । शनिवार को समर कैंप का समापन सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ संपन्न हुआ ।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक दिल्ली प्रांतीय रैगर पंचायत द्वारा आयोजित समर कैंप में 180 से अधिक छात्र-छात्राओं ने रचनात्मक व सृजनात्मक कौशल विकास एवं सांस्कृतिक गतिविधियों में भाग लेकर लाभान्वित हुए । शिविरार्थियों ने समापन कार्यक्रम के माध्यम से शिविर में सीखी गई अपनी प्रतिभा और कौशल का प्रदर्शन किया, जो एक यादगार कार्यक्रम रहा । कुछ बच्चो व अभिभावकों ने अपने अनुभव भी साझा किये l

प्रधान रामजी लाल बोकोलिया ने कहा कि यह तो अभी शुरूआत है, आने वाले समय में हम समर कैंप में और इस तरह की गतिविधियों का संचालन करेंगे, जिससे बच्चों का बहुमुखी और चहुमुखी विकास हो । उपप्रधान नविन कुरडिया ने कहा कि बच्चों में बहुत सी ऐसी रचनात्मक उपलब्धियां होती है जिन्हें सही मार्गदर्शन की जरूरत होती है । जैसे कोई बच्चा अच्छी पेंटिंग करता है तो उसे पेंटिंग सिखाना उसके लिए उसके स्किल को बेहतर बनाना होता है । उनके अंदर की स्किल को निखारने और उन्हें सही मंच प्रदान करने में समर कैंप में ही बड़ा उपयोगी होता है ।

जितेन्द्र माछलपुरिया ने मंच संचालन करते हुए कहा कि समर कैंप के कार्यक्रम के तहत् बच्चों को शिक्षण हेतु प्रशिक्षको द्वारा किये गये प्रयास सराहनीय है । उन्होंने कहा कि हमारा देश अनेकता में एकता का उदाहरण प्रस्तुत करता है एवं विभिन्नताओं के बावजूद हमारा देश एक है । समर कैम्प के माध्यम से बच्चों में संकोच की प्रवृति दूर होगी और उनका सर्वागीण विकास होगा । इससे पूर्व आंबेडकर जयंती पर पंचायत द्वारा टैलेंट हंट जैसी प्रतियोगिताएं आयोजित की गई तथा उनके परिणाम घोषित कर प्रतिभाओ को सम्मानित भी किया गया l मंत्री योगेश्वरी पीपलीवाल ने कहा कि ग्रीष्मावकाश में कैंप के माध्यम से बच्चों में छुपी प्रतिभा को बिना हिचक के अपने आप से अभिव्यक्त करना और टीम के साथ काम करने की गतिविधियां सिखाई जाती है ।

कोषाध्यक्ष खुशहाल चन्द बड़ोलिया ने बताया कि समर कैंप में पंचायत द्वारा प्रशिक्षको के द्वारा बच्चों की प्रतिभा को निखारने के लिए नाच गाना और इंस्ट्रूमेंट बचाना सिखाया जाता है । कुछ बच्चे जन्मजात प्रतिभाशाली होते हैं ।‌ बच्चों को हुनरमंद बनाकर उन्हें कलाओं के प्रति जागरूक बनाना हमारा उद्देश्य होता है । इसके अलावा एक इंसान के अंदर गायन, वादन, नृत्य आदि का ज्ञान होना भी जरूरी है । समर कैंप का मुख्य उद्देश्य बच्चों के अंदर छिपी प्रतिभा को निखारना तथा उन्हें दिशा देना है ।

दिल्ली प्रांतीय रैगर पंचायत द्वारा आयोजित ग्रीष्मकालीन शिविर के समापन समारोह के अवसर पर प्रशिक्षक नितिन माछलपुरिया जी, संदेश सिंगाड़िया जी, सूरज जी, कु०प्रियंका बारोलिया जी को पूर्व प्रधान कन्हैयालाल सिवाल जी, अनिल कुमार अकरणिया जी, रामस्वरूप बोकोलिया जी, रामजी लाल बोकोलिया जी, नवीन कुरडिया जी, रघुवीर सिंह गाडेगांवलिया जी, उमराव हिंगोनिया जी, अशोक जाजोरिया जी, प्रेम राज डिगवाल जी के नरेंद्र अटल, हर नारायण कांसोटिया द्वारा सम्मान पत्र प्रदान किये गए l

दिल्ली प्रांतीय रैगर पंचायत द्वारा आयोजित समर कैंप के समापन पर सभी बच्चो को प्रतिभागी प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया गया l कुछ बच्चो व अभिभावकों ने अपने अनुभव भी साझा किये l उन्होंने कहा कि समर कैंप में हम सभी को कुछ नया सीखने का मौका मिला इसके अलावा टीमवर्क में कार्य करने की भावना जाग्रत हुई ।

कार्यक्रम के अंत में जितेन्द्र माछलपुरिया ने संबोधन में सभी अतिथियों, अभिभावकों, बच्चों और पंचायत के कार्यकारिणी सदस्यों का आभार व्यक्त किया और कहा कि आपका सहयोग हमेशा पंचायत को मिलता रहता है और यही हमारी उपलब्धि है । साथ ही उन्होंने यह अपील की कि आपका सहयोग सदैव यूं ही मिलता रहे ताकि हम इसी तरह बच्चों के विकास के लिए निरंतर कार्य करते रहें ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close