Wednesday 19 June 2024 7:19 AM
Samajhitexpressजयपुरताजा खबरेंनई दिल्लीराजस्थानराज्य

दिल्ली के शिवाजी पार्क स्थित SPM कॉलेज में भूकंप की आपदा से निपटने के लिए मॉकड्रिल का आयोजन किया गया

दिल्ली, समाजहित एक्सप्रेस (रघुबीर सिंह गाड़ेगांवलिया) l  दिल्ली में भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदा की आपात स्थितियों से निपटने को लेकर काल्पनिक हादसे में बचाव कार्य यानि मॉकड्रिल का आयोजन शिवाजी पार्क पंजाबी बाग स्थित श्यामा प्रशाद मुकर्जी (SPM) कॉलेज में वीरवार 31 अगस्त 2023 को पश्चिमी जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा किया गया l मॉक ड्रिल का उदेश्य आपदा के समय तुरंत सहायता का ढांचा तैयार करना था, इस मॉक ड्रिल के दौरान आपातकालीन सेवाओं का मूल्यांकन, सभा, प्राथमिक चिकित्सा, निकास, खोज और बचाव, प्रतिक्रिया तथा अलार्म का अभ्यास किया गया और जो कमियों पाई गई उनको जल्द से जल्द दूर करने के दिशा निर्देश दिए गए ।

शिवाजी पार्क पंजाबी बाग स्थित श्यामा प्रशाद मुकर्जी (SPM) कॉलेज में वीरवार का नजारा रोज से अलग था । सुबह 11.25 बजे अचानक कॉलेज का आपदा अलार्म बज उठा । लोगों को बताया गया कि तेज भूकंप आया है । बाहर बड़ी संख्या में भीड़, एंबुलेंस और पुलिस को देख लोग सहम गए । सूचना पर कॉलेज परिसर के क्लास रूम  से दौड़ते हुए छात्र छात्राएं और शिक्षक बाहर भागने लगे । अचानक मची भगदड़ से कई लोग जख्मी भी हो गए । कॉलेज के भूतल और प्रथम तल पर कुछ लोगों के फंसे होने की भी जानकारी मिली । तत्काल कॉलेज की रेस्क्यू टीम और वहां उपस्थित स्थानीय लोगों ने बचाव अभियान शुरू कर घायलों को अस्पताल पहुंचाना शुरू किया ।

जिला इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर (डीईओसी) की सूचना पर पुलिस कंट्रोल रूम,  जिला चिकित्सालय, प्रशासन, नगर निगम, अग्निशमन, विधुत विभाग व नागरिक सुरक्षा आदि विभागों की टीम अलर्ट हो गई और घटना स्थल पर पहुंचने लगी । चंद मिनटों में नागरिक सुरक्षा के वालंटियर्स, जिला चिकित्सालय और संत जॉन एम्बुलेंस की टीम कॉलेज परिसर पर पहुंची और तीव्र गति से बचाव कार्य में जुट गई । डॉक्टर और नागरिक सुरक्षा के जवानों के एक दल द्वारा इंसिडेंट कमांड पोस्ट पर घायलों लाया गया और उनका डॉक्टर्स ने प्राथमिक उपचार शुरू किया । गंभीर रुप से घायल हुए लोगो को नजदीकी अस्पताल भेजा जाने लगा l अंत में अग्निशमन विभाग के अधिकारीयों ने सर्च और रेस्क्यू का कार्य किया l

राहत की बात यह है कि यह पूरा बचाव अभियान तो वास्तविक था लेकिन भूकंप और लोगों के घायल होने की बात काल्पनिक थी । दरअसल यह आपदा से बचाव की तैयारियां जांचने के लिए एक वृहद मॉक ड्रिल थी जो जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण और नागरिक सुरक्षा की तरफ से संयुक्त तौर पर आयोजित किया गया था । इसमें कई विभाग एक साथ शामिल हुए ।

जिला आपदा प्रबंध प्राधिकरण के जिला परियोजना अधिकारी निशांत बौधवानी और नागरिक सुरक्षा के डिप्टी चीफ वार्डन संत राम कौशिक के मुताबिक शिवाजी पार्क पंजाबी बाग स्थित श्यामा प्रशाद मुकर्जी (SPM) कॉलेज पर भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदा से निपटने के लिए मॉक ड्रिल का आयोजन पूरी तरह सफल रहा l  कार्यक्रम में दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट, जिला प्रशासन, दमकल, दिल्ली पुलिस, दिल्ली नागरिक सुरक्षा, कैट्स एम्बुलेंस, SPM कॉलेज की आपदा टीम और अन्य एजेंसियों ने हिस्सा लिया l  इस मॉकड्रिल से हम कितने तैयार हैं, इसकी जानकारी भी हमें लग गई है l  हादसे में होने वाले नुकसान को कम करने हेतु इस प्रकार के अभ्यास को हम आगे भी जारी रखेंगे ।

नागरिक सुरक्षा के डिप्टी चीफ वार्डन संतराम कौसिक ने सभी एजेंसीओ का मॉक ड्रिल में तत्परता से भाग लेने पर धन्यवाद और आभार व्यक्त किया l उन्होंने कहा कि इस दौरान जो कमियां रही उनको भविष्य में सुधारा जायेगा l सेंटजॉन एम्बुलेंस की देवेन्द्र कौर (असिस्टेंट कमिश्नर) ने बताया कि गर्मी के मौसम को देखते हुए इंसिडेंट कमांड पोस्ट पर पीने के पानी की व्यवस्था नहीं थी और घायलों को उपचाराधीन रखने की उचित व्यवस्था नहीं थी l जिस पर कॉलेज की और से इस कमी को भविष्य में सुधारने का आश्वासन दिया l

मॉक ड्रिल के दौरान नागरिक सुरक्षा के डिप्टी चीफ वार्डन संतराम कौसिक, डिवीज़न वार्डन रघुबीर सिंह (इंचार्ज), प्रीतम सिंह गुलाटी,  ओ.पी. शर्मा, डिप्टी डिवीज़न वार्डन बाल किशन सबलानिया, लेडी डिप्टी वार्डन ज्योति राना, मियांवाली नगर, पश्चिम विहार व पंजाबी बाग डिवीज़न के वालंटियर्स में मोनू यादव,शमा, ममता रानी,आरती,मीनू, मंजू,गीता कुमारी, प्रेमलता,पूनम,स्वेता, कोमल,आशा, कुसुम, मेघा, निशा गुप्ता, प्रीती, सौरव पुरोहित, सोनम, खुशबू, रमेश चौहान,अभिषेक, रेनू व नीलम आदि ने DDMA व QRT टीम के साथ बचाव व राहत कार्यों में अपनी सराहनीय  जिम्मेदारी निभाई l

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close